Thursday, January 1, 2009

नववर्ष


नववर्ष
नये साल का स्वागत, पुरानें को भूल जायें,

एक आशा की किरण से, फिर प्रेरणा पायें
अच्छी हों सच्ची हों, सबकी भावनायें,

नववर्ष की आपको, शुभकामनायें
नये साल की चुनोतियाँ , सवाल पूछेंगी,

जवाब तुम ढून्ढ लेना, अभ्यास खूब बढायें
पथरीली राहों में फूलों की, कामना ठीक नहीं,

राह मिलेगी उबड-खाबड, संभल-संभल के जायें
भ्रष्टाचार , आतंकवाद, दानव बडे-बडे,

इन ज़हरीले नागों के , फन पहले कटवायें
सहनशीलता , संयम के , हथियार पास हमारे,

विवेक से ही काम लें, उर्जा खूब बढायें
समयचक्र का पहिया, तेज़ दौड़नें वाला,

इसकी रफ्तार जितनी, "रत्ती" रफ्तार बनायें